Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

Nature

भारत सरकार द्वारा रजिस्टर्ड राजधानी लाइव टीवी से जुड़ने के लिए संपर्क करें 8004028570/6394068305 Email- rdlivetv01@gmail.com पर मेल करें
latest

जन सेवा केंद्र संचालक ने साइबर क्राइम का शिकार होने जा रही महिला को बचाया

 जन सेवा केंद्र संचालक ने साइबर क्राइम का शिकार होने जा रही महिला को बचाया रिपोर्ट राम ध्यान कुशवाहा जन सेवा केंद्र संचालक ने महिला के बचाए ...

 जन सेवा केंद्र संचालक ने साइबर क्राइम का शिकार होने जा रही महिला को बचाया


रिपोर्ट राम ध्यान कुशवाहा



जन सेवा केंद्र संचालक ने महिला के बचाए पंद्रह हजार रुपये




आवास का लालच देकर साइबर अपराधियों ने महिला से मांगे पन्द्रह हजार, जन सेवा केंद्र संचालक ने बचाया








मिहींपुरवा(बहराइच)-जिस तरह से देश में डिजिटल इंडिया का प्रचार प्रसार एवं कार्य जोरों पर बढ़ रहा है उसी तरह से साइबर क्राइम से संलिप्त अपराधी तरह-तरह के जुगाड़ खोज कर भोले भाले लोगों को जाल में फंसा कर उन्हें लूटने का कार्य कर रहे हैं! थाना मोतीपुर के गुजरहना गांव निवासी एक महिला के मोबाइल पर शुक्रवार को फोन आया कि उसे प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दो लाख पचास हजार रुपये का आवास उसे आवंटित किया गया है,आवास पाने के लिए वह बताए गए खाते पर 15 हजार रुपये भेज दे और 2 मिनट के अंदर उसे ढाई लाख रुपए हस्तांतरित कर दिए जाएंगे, महिला ने किसी तरह से पैसे का इंतजाम किया और जरही रोड पर स्थित आजाद डिजिटल शाप एवं जन सेवा केंद्र पर पहुंची और केंद्र संचालक हंसराम आजाद से संबंधित खाते में 15 हजार रुपये ट्रांसफर करने की बात कही ,तो उन्होंने महिला से पूछा कि जिसको आप पैसा भेज रहे हो क्या वह आपका परिचित है ,तो महिला ने बताया कि उसे ढाई लाख रुपए का आवास मिला हुआ है ,उसी एवज में 15 हजार रुपये देना है ,रुपये जमा कर देने के बाद आवास का पैसा खाते में आएगा, केंद्र संचालक ने फोन करने वाले व्यक्ति से बात किया और जानकारी चाहिए तो उसने पहले घुमा फिरा कर बात किया, फिर केंद्र संचालकों 50 फ़ीसदी का लालच दिया ,बोला कि महिला को ज्यादा समझाओ नहीं ,50 फ़ीसदी तुम रख लो 50 फीसदी हमारे खाते में डाल दो ,केंद्र संचालक हंसराम आजाद को साइबर क्राइम का शक हुआ तो उन्होंने तत्काल 112 नंबर डायल कर मामला पुलिस को बताया ,मौके पर पहुंची पुलिस और जन सेवा केंद्र संचालक ने महिला को समझा-बुझाकर घर भेजा, तथा मोतीपुर थाने में साइबर क्राइम के तहत तहरीर देने की सलाह दी ,जन सेवा केंद्र संचालक यदि सूझबूझ से काम नहीं लेता तो गरीब परिवार की महिला 15 हजार रुपये साइबर क्राइम का शिकार हो जाती,केंद्र संचालक हंसराम आजाद के कार्य को लोग सराह रहे हैं |

No comments